प्रैस विज्ञप्ति : 17वां भव्य पाटोत्सव 8 से 13 अप्रैल 2017

17teen-press-notesऐतिहासिक अचल सरोवर के समीप, जी0टी0 रोड पर स्थित अलीगढ़ नगर की पहचान बने भव्य श्री वार्ष्णेय मन्दिर का पाटोत्सव कार्यक्रम प्रत्येक वर्ष की तरह इस वर्ष भी अत्यन्त धूम-धाम एवं श्रद्धापूर्वक मनाया जायेगा।

    श्री वार्ष्णेय मन्दिर के व्यवस्थापक श्री राधेष्याम गुप्ता ने बताया कि श्री वार्ष्णेय मन्दिर में योगिराज श्री कृष्ण एवं अन्य मुख्य विग्रहों की विधिवत प्राण प्रतिष्ठा को 17 वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में यह 17 वाँ पाटोत्सव चैत्र शुक्ल त्रयोदषी तद्नुसार 9 अप्रैल 2017 को मनाया जा रहा है। इससे एक दिवस पूर्व नगर के मध्य महावीर गंज स्थित श्री दाऊजी मन्दिर से कलष यात्रा सायं 4 बजे से प्रारम्भ होगा। शहर के प्रमुख मार्गों से होकर यह कलष यात्रा श्री वार्ष्णेय मन्दिर पर सम्पूर्ण होगी। पाटोत्सव के इस वृह्द कार्यक्रम की समस्त आयोजन एवं वित्त व्यवस्था में सर्व श्री गुलाब चन्द्र सुपारी वाले, संजीव वैभव, विष्णु षेखर गुप्ता, दिनेष कुमार भट्टे वाले, पल्लव गुप्ता एवं अन्नू बीड़ी का विषेष सहयोग प्राप्त हो रहा है।

    मंदिर के महंत मनोज मिश्रा के अनुसार 9 अप्रैल 2017 को प्रातः 9 बजे गर्भग्रह में प्रतिष्ठित विग्रहों को दुग्ध से स्नान कराकर अभिषिक्त किया जायेगा। तत्पष्चात प्रातः 11 बजे श्री वासुदेवाय महायज्ञ आयोजित होगा, जिसमें बड़ी संख्या में यजमान सपत्नीक यज्ञकर्म सम्पन्न करेंगे। यज्ञ उपरान्त मध्यान्ह प्रसाद भोज आयोजित रहेगा। सायंकाल अत्यन्त शोभावान फूल बंगला एवं छप्पन भोग के दर्षन होंगे। सदैव की तरह मंदिर के मुख्य भवन एवं प्रांगण में बड़ी भारी संख्या में भक्तगण महाआरती करेंगे। इस विषाल आयोजन में ब्रजेष कंटक एवं पारस गुप्ता की टीम अत्यन्त विस्तृत व्यवस्था में संलग्न हैं।

    इस बार अर्न्तराष्ट्रीय प्रसिद्धि प्राप्त ब्रज कला केन्द्र, वृन्दावन के कलाकारों द्वारा श्री कृष्णलीला का विषेष आयोजन 10 अप्रैल, 11 अप्रैल एवं 12 अप्रैल को रात्रि 8 बजे से किया जा रहा है। समापन के पश्चात् प्रत्येक दिवस प्रसाद भोज व्यवस्था की जा रही है।

    11 अप्रैल को दोपहर 2 बजे से बाल प्रतिभा सम्मान किया जायेगा। इस कार्यक्रम में कक्षा 1 से 8 तक के छात्र-छात्राओं को परीक्षाफल के निर्धारित मापदण्ड के आधार पर पुरस्कृत किया जायेगा। इस हेतु सर्व श्री नितिन स्वरूप विमल वार्ष्णेय, दयानन्द डैनी, की टीम लगभग बच्चों को पुरस्कृत करने की योजना पूर्ण कर चुकी है।

    10 अप्रैल एवं 12 अप्रैल को दोपहर 2 बजे से क्रमषः महिला कार्यक्रम एवं बाल कार्यक्रमों के अर्न्तगत सर्व श्रीमती कृष्णा गुप्ता, दुर्गेष वार्ष्णेय ने विभिन्न प्रतियोगिताओं को अपनी अन्य सहयोगियों के साथ सम्पन्न करायेंगी। अन्य सहयोगी महिलाओं में सर्व श्रीमती अल्का वार्ष्णेय, लक्ष्मी वार्ष्णेय, शारदा वार्ष्णेय, सीमा वार्ष्णेय प्रमुख रूप से रहेंगी।

    पाटोत्सव समापन पर 13 अप्रैल को श्री अनिल राज वृद्धजन सम्मान समारोह में सहयोग करेंगे। मध्यान्ह 12 बजे से विषाल भण्डारा आयोजित होगा। इसमें प्रमुख सहयोगी सर्व श्री सुनील सी0एल0, कृष्ण कुमार सीटू, हीरेन्द्र अग्रवाल, नीटू शर्मा, सुनील मित्तल इत्यादि रहेंगे एवं राजेन्द्र वार्ष्णेय चीफ रसिया दंगल की व्यवस्था देख रहे हैं।

    शहर विधायक श्री संजीव राजा एवं नगर प्रमुख श्रीमती शकुन्तला भारती ने मंदिर सेवा समिति द्वारा बुलाई गई प्रैसवार्ता को संबोधित करते हुए सभी नगर वासियों से निवेदन किया है कि योगीराज भगवान श्री कृष्ण को समर्पित श्री वार्ष्णेय मन्दिर के सप्ताह भर के इस भव्य आयोजन में भारी संख्या में उपस्थित होकर भगवान का आषीर्वाद प्राप्त करें। प्रैसवार्ता में उपस्थित सर्व श्री एल0डी0 वार्ष्णेय, राजा राम मित्र, श्री राधेष्याम गुप्ता, गुलाब चन्द्र सुपारी वाले, संजीव वैभव, विष्णु षेखर गुप्ता, दिनेष कुमार भट्टे वाले, पल्लव गुप्ता, अन्नू बीड़ी,  ब्रजेष कंटक, पारस गुप्ता आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।